You are here: Homeखेल

Sports (25)

 

 

 

नई दिल्ली: क्रिकेट के खेल का रोमांच यही है। नागपुर के वीसीए ग्राउंड पर मैच देखने पहुंचे दर्शकों के लिए यह वाकई पैसा वसूल मैच रहा। मैच के आखिरी ओवर में जसप्रीत बुमराह ने करिश्‍माई गेंदबाजी करते हुए इंग्‍लैंड के खेमे से जीत छीन ली। मैच में ज्‍यादातर समय इंग्‍लैंड की जीत तय नजर आ रही थी, क्रिकेटप्रेमियों से तो यह अंदाज लगाना शुरू कर दिया था कि इंग्‍लैंड कितने ओवर में भारत की ओर से दिए गए 145 रन के लक्ष्‍य तक पहुंच पाता था। बहरहाल, आखिरी के क्षणों में भारतीय गेंदबाजों ने संयमित प्रदर्शन किया और दबाव में अपने खेल को बिखरने नहीं दिया।

 

यही कारण रहा कि जीत की ओर बढ़ रहे इंग्‍लैंड के कदम डगमगाने लगे। चौथे विकेट के लिए जो रूट के साथ बेन स्‍टोक्‍स ने 52 रन की साझेदारी के बाद 17वें ओवर में स्‍टोक्‍स के आउट होने से भारत को राहत मिली, लेकिन इसके बाद भी इंग्‍लैंड की जीत लगभग तय लग रही थी। यहीं से भारतीय गेंदबाजों ने इंग्‍लैंड के आगे के बल्‍लेबाजों पर लगाम कस दी। (यह भी पढ़ें- आशीष नेहरा, जसप्रीत बुमराह ने दिलाई रोमांचक जीत, टीम इंडिया ने सीरीज में 1-1 से बराबरी की)

 

जसप्रीत बुमराह जब अंतिम यानी 20वां ओवर करने आए तो इंग्‍लैंड को आठ रन की जरूरत थी और चार विकेट ही गिरे थे। तारीफ करनी होगी बुमराह की। गुजरात के इस गेंदबाज के इस ओवर में महज दो रन बने और इंग्‍लैंड के जो रूट और जोस बटलर के रूप में इंग्‍लैंड के दो अहम विकेट गिरे। नजर डालते हैं आखिरी ओवर के इस रोमांच पर।।।

 

20वां ओवर, गेंदबाज जसप्रीत बुमराह, इंग्‍लैंड को आठ रन की जरूरत

पहली गेंद : जो रूट के खिलाफ एलबीडब्‍ल्‍यू की जोरदार अपील। अम्‍पायर ने फैसला टीम इंडिया के पक्ष में दिया, इंग्‍लैड का स्‍कोर 137/4

दूसरी गेंद : बुमराह की गेंद पर नए बल्‍लेबाज मोईन अली ने एक रन लिया, स्‍कोर 138/4

तीसरी गेंद : बुमराने चतुराई से स्‍लो ऑफ कटर फेंकी, बटलर इसे पढ़ नहीं सके, शॉट खेला लेकिन चूके, स्‍कोर  138/4

चौथी गेंद : बुमराह की लेंथ बॉल, बटलर बोल्‍ड हुए, भारतीय जीत की उम्‍मीदें परवान चढ़ीं, इंग्‍लैंड का स्‍कोर 138/4

पांचवीं  गेंद : बुमराह की गेंद पर जॉर्डन शॉट नहीं लगा पाए, बाय के रूप में एक रन मिला, इंग्‍लैंड का स्‍कोर 139/4

छठी गेंद: जीत के लिए आखिरी गेंद पर छह रन की जरूरत थी,  बुमराह की गेंद पर मोईन अली ने बल्‍ला घुमाया लेकिन शॉट मिस कर गए, कोई रन नहीं बना,  इंग्‍लैंड का स्‍कोर 139/4, टीम इंडिया ने पांच रन से मैच जीत लिया।

लोकप्रिय

 

नागपुर टी20 : वीरेंद्र सहवाग ने आशीष नेहरा को दिया नया नाम, बताया दूध का किस्सा जिसे सुनकर हंस पड़ेंगे आप

 

INDvsENG नागपुर टी-20 : भारत की जीत में अंपायर की भूमिका।।?

 

यूपी को राहुल गांधी-अखिलेश यादव का साथ पसंद है, मगर मुलायम सिंह यादव को नहीं, पढ़ें क्या है वजह

संबंधित

INDvsENG नागपुर टी-20 : भारत की जीत में अंपायर की भूमिका।।?

INDvsENG T20 : आखिरी गेंद पर बुमराह ने ली थी आशीष नेहरा से सलाह और जीत लिया मैच।।।

INDvsENG : जामथा में पहली बार T20 में मिली टीम इंडिया को जीत, बने ये नए रिकॉर्ड

 

 

 

 

नई दिल्ली ( 27 जनवरी ): इंग्लैंड ने भारत को पहले टी20 मैच में 7 विकेट से करारी मात दी। इस मैच में भारत की हार पर भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि ग्रीनपार्क की पिच पर टीम इंडिया ने 30-35 रन कम बनाए जो हार की एक मुख्य वजह रही।

 

भारत के 147/7 के जवाब में इंग्लैंड ने 11 गेंद शेष रहते 3 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाई।

 

 हार के बाद विराट ने कहा, ‘इंग्लैंड ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया और वे जीत के हकदार थे। उनके तेज और स्पिन गेंदबाजों ने लाइन लैंथ पर गेंदबाजी की और हमें कोई मौका नहीं दिया।

 

इस पिच पर हमारे 30-35 रन कम बने, क्योंकि 175-180 का स्कोर फाइटिंग हो सकता था। हमारे बल्लेबाजों को ज्यादा जिम्मेदारीभरा प्रदर्शन करना चाहिए था। हमें इस हार से सबक लेकर आगे बढ़ना होगा।

 

युजवेंद्र चहल के बारे में विराट ने कहा, मुझे उन पर पूरा विश्वास है, क्योंकि वे आईपीएल में मेरी टीम में ही खेलते हैं। वे नई गेंद के साथ भी अच्छी गेंदबाजी कर लेते हैं। इस युवा खिलाड़ी ने इस मैच में अपना जुझारूपन दिखाया।

 

नई दिल्ली (25 जनवरी): भारतीय क्रिकेट टीम 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के अवसर पर इंग्लैंड के खिलाफ यहां होने वाले पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच के दौरान तिरंगा बैज लगाकर मैदान पर उतर सकती हैं।

 

उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ (यूपीसीए) इस संबंध में भारतीय टीम प्रबंधन से बात करेगा। आईपीएल चेयरमैन राजीव शुक्ला ने कहा कि यूपीसीए तिरंगे के छोटे बैज खिलाडिय़ों को उपलब्ध कराएगा। उन्होंने पत्रकारों से कहा, गणतंत्र दिवस 26 जनवरी के दिन ग्रीन पार्क में पहला टी20 मैच आयोजित किया जा रहा है यह यूपीसीए के लिये काफी खुशी का विषय है।

 

मैच शाम को शुरू होगा इस लिये खिलाड़ी मैदान में ध्वज तो नहीं फहरा पाएंगे, लेकिन यूपीसीए भारतीय टीम प्रबंधन से कहेगा कि खिलाड़ी तिरंगे का छोटा बैज लगाकर मैच खेलने मैदान में उतरे। तिरंगे के छोटे बैज यूपीसीए खिलाडिय़ों को उपलब्ध कराएगा। उन्होंने कहा इसके साथ ही कहा कि ग्रीन पार्क को आगे भी मैचों की मेजबानी मिलती रहेगी।

नई दिल्ली (24 जनवरी): भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज़ वीरेंद्र सहवाग ने कहा है कि भारत इंग्लैण्ड के खिलाफ चल रही श्रंखला का आखिरी मैच हारा नहीं बल्कि अंपायर धर्मसेना के गलत फैसलों से हराया गया। भारत के पास मैच जीतने के ढेर सारे मौके थे, मगर अंपायर की अनदेखी के कारण इंग्लैण्ड को छह रनों का फायदा हुआ।

 

दरअसल इंग्लैंड की पारी के दौरान 29वें ओवर में जॉनी बेयरस्टोव और इंग्लैंड के कप्तान इयान मॉर्गन क्रीज़ पर थे। बेयरस्टोव फाइनलेग पर कैच आउट हुए और पैवेलियन की ओर जाने लगे। तभी अंपायर ने उन्हें नो बॉल की जांच करने तक रुकने को कहा।

 

रिप्ले में साफ दिखा कि बुमराह का पैर लाइन से बाहर था। बेयरस्टोव को नॉट आउट कहा गया और अगली गेंद के लिए फ्री हिट कॉल था। इस फ्री हिट के लिए मॉर्गन ने स्ट्राइक ली, जबकि रिप्ले में साफ दिखा था कि कैच लपकने के दौरान दोनों बल्लेबाज एक दूसरे से क्रास नहीं हुए थे, इसलिए स्ट्राइक पर मॉर्गन के बजाय बेयरस्टोव को होना चाहिए था।

 

अंपायर ने इस बात पर ध्यान नहीं दिया तो मॉर्गन ने फ्री हिट का फायदा उठाकर छक्का मार दिया।बहुत मुमकिन था कि अगर मॉर्गन इस गेंद पर स्ट्राइक नहीं लेते तो शायद बेयरस्टोव फ्री हिट पर इतना बड़ा शॉट नहीं लगा पाते। इस त रह इंग्लैंड को छह रनों का फायदा नहीं मिलता। बाद में ये रन ही इंग्लैंड के बहुत काम आए और उसने यह मैच पांच रनों के अंतर से जीता।

नई दिल्ली(21 जनवरी): टीम इंडिया में वापसी कर रहे युवराज सिंह ने कटक वनडे में इंग्लैंड के खिलाफ अपने करयिर का सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया। युवराज की इस पारी के बाद लोगों को लग रहा है कि उनका 'लेडी लक' काम कर रहा है। शादी के बाद ही तीन साल बाद युवराज को वनडे टीम का टिकट मिल गया और फिर दूसरे मैच में मैन अॉफ द मैच।

 

 

 

- युवराज की इस शानदार पारी को सबसे ज्यादा पंसद किया गया और इसके लिए उनका लेडी लक यानि कि हेजल कैसे पीछे रह सकती है। हाल ही में हेजल कीच ने उनके लिए एक प्यारा सा संदेश दिया और उनकी शतक की तारीफ करते हुए कहा कि युवराज का मिडिल नाम 'भंयकर' होना चाहिए। 127 बॉल में 150 रन, मैन ऑफ द मैच, इंग्लैंड के खिलाफ 2-0 से भारत की जीत।

 

 

 

- उन्होंने युवी की कैंसर से लड़ाई को याद करते हुए कहा कि कीमोथेरेपी के बाद युवी को अपने स्वास्थ्य और फिटनेस को वापस हासिल किया और आखिरकार भारत की वनडे टीम में अपनी जगह दोबारा बनाई। उतने ही उत्साह के साथ शादी के सभी कार्य में भी शामिल रहें। दोस्तों, यही है कभी ना हार मानने का जज्बा। कैंसर से उभरने और उसे हराने में अंतर होता है।

 

नई दिल्ली: युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी ने बाराबती स्टेडियम में गुरुवार को यहां अपना पुराना रंग दिखाकर दिलकश शतकीय पारियां खेली जिससे भारत ने रोमांच से भरे बड़े स्कोर वाले दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में इयोन मोर्गन के साहसिक शतक पर पानी फेरकर इंग्लैंड को 15 रन से हराया और तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 से अजेय बढ़त बनायी।

 

युवराज ने 127 गेंदों पर 150 रन की जबर्दस्त पारी खेली जो उनके करियर का सर्वोच्च स्कोर है। धोनी ने भी अपना असली जलवा दिखाया और 122 गेंदों पर 134 रन बनाये। भारत ने बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर कप्तान विराट कोहली सहित तीन विकेट 25 रन पर गंवा दिये थे जिसके बाद युवराज और धोनी ने चौथे विकेट के लिये रिकार्ड 256 रन की साझेदारी निभायी जिससे टीम छह विकेट पर 381 रन का विशाल स्कोर खड़ा करने में सफल रही।

 

 

 

मोर्गन ने आखिर तक इंग्लैंड की उम्मीद बनाये रखी लेकिन आखिर में उनकी टीम आठ विकेट पर 366 रन तक ही पहुंच पायी। सलामी बल्लेबाज जैसन राय (82) ने टीम को अच्छी शुरूआत दी और जो रूट (54) के साथ दूसरे विकेट के लिये 100 रन जोड़े। कप्तान मोर्गन ने फार्म में वापसी करके 81 गेंदों पर 102 रन की पारी खेली और मोईन अली (55) के साथ छठे विकेट के लिये 93 रन और लियाम प्लंकेट (नाबाद 26) के साथ चार ओवर में 50 रन की साझेदारी की लेकिन यह जीत के लिये पर्याप्त नहीं था।

 

 

 

इंग्लैंड को आखिरी आठ ओवरों में 105 रन की दरकार थी। मोर्गन ने बड़े साहसिक तरीके से मिशन आगे बढ़ाया लेकिन जब आखिरी ओवर में 22 रन चाहिए थे तब तक वह पवेलियन लौट चुके थे। भुवनेश्वर (63 रन देकर एक) ने इस ओवर में छह रन दिये। बल्लेबाजों के लिये स्वर्ग बनी पिच पर भारतीयों गेंदबाजों में रविंद्र जडेजा ने प्रभाव छोड़ा। उन्होंने 10 ओवर में 45 रन देकर एक विकेट लिया। रविचंद्रन अश्विन सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 65 रन देकर तीन विकेट जबकि तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने नौ ओवर में 81 रन देकर दो विकेट लिये।

 

 

 

इंग्लैंड को वर्तमान भारत दौरे में अब भी पहली जीत की दरकार है। उसे इससे पहले पांच मैचों की टेस्ट श्रृंखला में 0-4 से हार का सामना करना पड़ा था। इन दोनों टीमों के बीच तीसरा और अंतिम वनडे 22 जनवरी को कोलकाता में होगा। लगभग तीन साल बाद वनडे टीम में वापसी करने वाले बायें हाथ के बल्लेबाज युवराज ने अपने करियर का 14वां और इंग्लैंड के खिलाफ चौथा शतक लगाया। युवराज ने इससे पहले अपना आखिरी शतक विश्व कप 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ बनाया था।

 

 

 

युवराज ने इंग्लैंड के सबसे सफल गेंदबाज क्रिस वोक्स (46 रन देकर 4 विकेट) की गेंद पर विकेटकीपर जोस बटलर को कैच थमाने से पहली अपनी पारी में 127 गेंदें खेली तथा 21 चौके और तीन छक्के लगाये। इस पारी के दौरान वह भारत की तरफ से इंग्लैंड के खिलाफ वनडे में सर्वाधिक रन (1478) बनाने वाले बल्लेबाज भी बने। उन्होंने सचिन तेंदुलकर (1455 रन) को पीछे छोड़ा। धोनी ने कप्तानी छोड़ने के बाद पहली शतकीय पारी खेली जो उनके करियर का 10वां सैकड़ा है। उन्होंने अपनी पारी में 122 गेंदें खेलकर 10 चौके और छह छक्के लगाये। वह इस दौरान वनडे में 200 या इससे अधिक छक्के लगाने वाले दुनिया के पांचवें बल्लेबाज भी बने।

 

 

 

भारत ने आखिरी दस ओवरों में 120 रन ठोके और इंग्लैंड के खिलाफ अपना दूसरा सर्वोच्च स्कोर बनाया। यही नहीं यह 23वां अवसर है जबकि भारत ने 350 से अधिक रन बनाये और इस तरह से उसने दक्षिण अफ्रीका (22 बार) को पीछे छोड़ा। टॉस गंवाने के बाद भारत की शुरूआत अच्छी नहीं रही और उसने पहले पांच ओवर में दोनों सलामी बल्लेबाज केएल राहुल (पांच) और शिखर धवन (11) तथा बेहतरीन फार्म में चल रहे कप्तान कोहली (पांच) का विकेट गंवा दिया। इन तीनों को वोक्स ने पवेलियन भेजा।

 

 

 

यहां से धोनी और युवराज ने स्थिति संभाली जबकि निचले क्रम में पिछले मैच के नायक केदार जाधव ने दस गेंदों पर 22, हार्दिक पंड्या ने नौ गेंदों पर नाबाद 19 और जडेजा ने आठ गेंदों पर नाबाद 18 रन बनाये। राय ने एक छोर संभाले रखा लेकिन जडेजा की गेंद थर्ड मैन पर खेलने के प्रयास में वह बोल्ड हो गये। उन्होंने 73 गेंदें खेली तथा नौ चौके और दो छक्के लगाये। बेन स्टोक्स (एक) ने आते ही अश्विन की गेंद अपने विकेटों पर खेली। अश्विन ने इसके बाद जोस बटलर (10) को भी आउट किया। धोनी वाइड गेंद पर अपनी चपलता दिखाकर उन्हें स्टंप आउट किया।

 

 

 

मोर्गन ने एक छोर संभाले रखा और उन्हें मोईन के रूप में अच्छा साथी भी मिला। मोईन जब 37 रन पर थे तब भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर जडेजा ने उनका मुश्किल कैच छोड़ा। भुवनेश्वर ने आखिर में मोईन को धीमी गेंद पर बोल्ड करके यह साझेदारी तोड़ी। मोर्गन और प्लंकेट ने आखिरी क्षणों में लंबे शाट खेलकर भारतीयों की पेशानी पर बल ला दिये थे। मोर्गन ने बुमराह पर चौका जड़कर अपना शतक पूरा किया लेकिन इस गेंदबाज ने दो गेंद बाद इंग्लैंड के कप्तान को रन आउट करके भारतीयों में खुशी की लहर दौड़ा दी।

 

 

 

मोर्गन ने अपनी पारी में छह चौके और पांच छक्के लगाये। इससे पहले वोक्स ने अपने दूसरे ओवर की कोण लेती पहली गेंद पर राहुल को स्लिप में स्टोक्स के हाथों कैच कराया। कोहली ने आते ही उन पर दो चौके जमाये लेकिन इसी ओवर की आखिरी गेंद पर वह भारतीय कप्तान का कीमती विकेट निकालने में सफल रहे। वोक्स की यार्कर कोहली के बल्ले का किनारा लेकर दूसरी स्लिप में गयी जहां स्टोक्स ने नीचा रहता हुआ कैच लिया। उन्होंने अगले ओवर में धवन को बोल्ड किया जो फिर से फार्म में वापसी करने में नाकाम रहे।

 

 

 

युवराज जब 146 रन पर थे तब अंपायर ने उन्हें विकेट के पीछे कैच आउट दे दिया था। धोनी के कहने पर उन्होंने डीआरएस लिया जिससे साफ हो गया कि वह आउट नहीं हैं। युवराज हालांकि इसका फायदा नहीं उठा पाये और वोक्स के अगले ओवर में आफ स्टंप से बाहर जाती गेंद पर विकेट के पीछे कैच दे बैठे। धोनी ने इससे पहले इसी ओवर में पहला छक्का और फिर एक रन लेकर 106 गेंदों पर अपना सैकड़ा पूरा किया। धोनी इसके बाद हावी हो गये और डेथ ओवरों में उन्होंने लंबे शाट खेलने के अपने कौशल का शानदार नजारा पेश किया। उन्होंने लियाम प्लंकेट के एक ओवर में तीन छक्के लगाये लेकिन आखिरी गेंद पर सीमा रेखा पर डेविड विली ने उनका कैच लपक दिया।

नई दिल्ली (19 जनवरी): प्रो-रेसलिंग लीग के एक फ्रेंडली मुकाबले में योग गुरू बाबा रामदेव ने ओलिंपिक मेडल विनर आंद्रे स्टेडनिक को हरा दिया। बाबा ने ही स्टेडनिक को चैलेंज किया था। बाबा ने यूक्रेन के पहलवान को कड़ी टक्कर दी और 12-0 से चित कर दिया।

 

 बाबा के मैच के दौरान भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारे लगते रहे। रिंग में आते ही उन्होंने सबसे पहले सूर्य नमस्कार किया।

 

 

मुकाबले से पहले रामदेव ने कहा, 'मैंने नेशनल लेवल के पहलवानों के साथ मुकाबला किया है, लेकिन इंटरनेशनल लेवल के जाने-माने पहलवान के खिलाफ खेलना ज्यादा रोमांचक होगा।

 

 

इस मैच में योग की ताकत देखने को मिलेगी। जब रामदेव के चैलेंज का आंद्रे को पता चला तो वो हैरान हो गए। आंद्रे ने कहा कि बाबा की अगर स्पोर्ट्स में होते तो भारत के सबसे अच्छे पहलवानों में शामिल होते।

 

 

आपको बता दें कि स्टेडनिक ने बीजिंग ओलिंपिक में भारत के स्टार पहलवान सुशील कुमार को हराया था। वह फाइनल में पहुंचे और सिल्वर मेडल जीतने में कामयाब रहे थे। सुशील को इस इवेंट में ब्रॉन्ज मेडल मिला था।

 

नई दिल्ली(17 जनवरी): ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाले रेसलर योगेश्वर दत्त सोमवार को शीतल शर्मा के साथ विवाह बंधन में बंध गए।

 

 

- दिल्ली के अलीपुर स्थित द जेहान गार्डन में शादी की रस्में हुईं।

 

 

- शादी में बीजेपी, कांग्रेस के नेताओं समेत कई खिलाड़ी भी शामिल हुए।

 

 

- योगेश्वर की पत्नी शीतल कांग्रेसी नेता जयभगवान शर्मा की बेटी हैं।

 

 

- रेसलर योगेश्वर को बधाई देने हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा भी शादी में पहुंचे।

 

 

- इसके साथ हरियाणा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर, कुलदीप शर्मा और भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी भी पहुंचे।

 

 

- शादी में हरियाणा के 'आप' नेता नवीन जयहिंद अपनी पत्नी और दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाती मालिवाल के साथ बधाई देने पहुंचे।

 

- शादी से पहले योगेश्वर के गांव भैंसवाल में दिनभर धूम रही। यहां शादी से जुड़ी सभी रस्में की गईं।

 

 

- सीएम मनोहर लाल खट्टर भी सोमवार को भैंसवाल कलां में पहुंचे और योगेश्वर दत्त को शादी की बधाई दी।

 

 

- सीएम ने कहा कि योगेश्वर ने ओलिंपिक में भाग लेकर प्रदेश व गांव का नाम रोशन किया है।

 

 

- योगेश्वर दत्त ने कहा कि शादी के बाद भी खेलना जारी रखूंगा। अब उनका लक्ष्य कॉमन वैल्थ गेम्स हैं।

 

- शादी के बाद इसमें पदक जीतने के लिए अभ्यास करूंगा। वहीं रूखी में खेल अकादमी पर पूरा ध्यान रखेगा। जिससे प्रदेश व देश के अच्छे पहलवान दे सकूं।

नई दिल्ली(16 जनवरी): भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ 3 मैचों की वनडे सीरीज के पहले मैच में 3 विकेट से जीत दर्ज की। ऐसा तीसरी बार हुआ जब टीम इंडिया 350 रन देकर मैच जीती।

 

 

 

- इंग्लैंड भारत के खिलाफ सबसे बड़ा वनडे स्कोर बनाकर भी हार गया।

 

 

 

- रेग्युलर कैप्टनशिप में विराट का यह पहला मैच था। एक वक्त भारत ने 63 रन पर 4 विकेट गंवा चुका था, लेकिन कोहली और केदार जाधव की 5th विकेट के लिए 197 रनों की पार्टनरशिप ने जीत की राह आसान कर दी।

 

 

 

- खास बात रही कि जाधव ने महज 76 गेंदों पर 120 रनों की पारी खेली। उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ अवॉर्ड दिया गया।

 

 

 

- बड़े टारगेट को चेज करते वक्त भारत की शुरुआत काफी खराब रही। एक वक्त टीम इंडिया 63 रन पर थी और उसके टॉप 4 बैट्समैन आउट हो चुके थे।

 

 

 

- इसके बाद विराट और केदार जाधव ने एक तरह से रेस्क्यू किया और टीम को हार से जीत की राह पर ले आए।

 

 

 

- दोनों ने 5th विकेट के लिए 146 बॉल पर 200 रन जोड़े। पार्टनरशिप में विराट ने 95 और जाधव ने 102 रन बनाए।

 

 

 

- कोहली ने इस मैच में कप्तानी पारी खेली और करियर की 27वीं सेन्चुरी लगाई।

 

 

 

- विराट ने वोक्स की बॉल पर सिक्स लगाकर सेन्चुरी पूरी की। वे 105 बॉल पर 122 रन (8 चौके और 5 सिक्स) बनाकर आउट हुए।

 

 

 

- इंग्लैंड के खिलाफ ये उनकी चौथी सेन्चुरी थी। इसके साथ ही विराट ने इंग्लैंड के खिलाफ अपना हाइएस्ट स्कोर भी बनाया।

 

 

 

- कोहली ने 93 बॉल पर 100 रन पूरे किए थे। 50 रन 44 बॉल पर बने थे।

 

 

 

- वनडे मैचों में टारगेट का पीछा करते हुए ये विराट की 17वीं सेन्चुरी रही। जो कि वर्ल्ड में सबसे ज्यादा है।

 

 

 

- अब इस मामले में वे सचिन तेंडुलकर के बराबर हो गए हैं। सचिन के नाम पर भी इतनी ही सेन्चुरी हैं।

 

नई दिल्ली ( 14 जनवरी ): पहलवान योगेश्वर दत्त की 16 जनवरी को शादी है। शादी से पहले उनके गांव भैंसवाल कलां में मिठाइयां तैयार करने के लिए कड़ाह चढ़ गए हैं। तीनों बहने रेणु, कविता व सीमा मेहमानों के स्वागत में लगी हैं। मां सुशीला देवी भी अपने बेटे की शादी को लेकर चहक रही हैं।

 

 

 तमाम रिश्तेदार पहुंच चुके हैं। घर में शादी के गीत गूंज रहे हैं। शादी से पहले घर में पारंपरिक हरियाणवी गीत गूंजने लगे हैं। 16 जनवरी को दिल्ली में उनकी शादी कांग्रेस नेता जयभगवान शर्मा की बेटी शीतल से होगी।

 

 

14 जनवरी को सोनीपत के मुरथल रोड स्थित गीतांजली गार्डन में उनकी सगाई होगी। योगेश्वर दत्त ने पीएम नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री मनोहर लाल, वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु, खेल मंत्री अनिल विज सहित अनेक मंत्रियों व विधायकों को नियंत्रण पत्र दिया है।

 

 

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, बाबा रामदेव, मुरली मनोहर जोशी, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, सांसद दीपेंद्र हुड्डा, इनेलो के वरिष्ठ नेता एवं प्रतिपक्ष के नेता अभय सिंह चौटाला को भी न्यौता दे रखा है।

 

 

 

 

योगेश्वर लगातार चार बार ओलंपिक खेल चुके हैं। 2012 के लंदन ओलंपिक में उन्होंने ब्रॉन्ज मेडल जीता था। हालांकि, वो रियो ओलिंपिक में मेडल से चूक गए।

 

 

 बताया जाता है कि योगेश्वर के गुरु मास्टर सतबीर ने शीतल से उनका रिश्ता तय कराया है। शीतल जयभगवान शर्मा की इकलौती बेटी हैं। शर्मा 1991 में पूर्व सीएम भजनलाल से प्रभावित होकर राजनीति में आए।

 

फोटो गैलरी

Market Data

एडिटर ओपेनियन

IPL की साख पर सवाल गलत: श्रीनिवासन

IPL की साख पर स...

नई दिल्ली।। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड...

अरुणाचल की तीरंदाजों को चीन ने दिया नत्थी वीजा!

अरुणाचल की तीरं...

नई दिल्ली।। अरुणाचल प्रदेश की दो नाबालिग...

Video of the Day

Right Advt

Contact Us

  • Address: House No. 216 ward-06 Gandhi Chowk, Main Market, Mandideep, Dis. Raisen (M.P.)
  • Tel: +(91) 8349212122
  • Email:  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.
  • Website: http://asianreporter.co.in/

About Us

Asian Reporter is one of the renowned Hindi Magazine in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers. ‘Asian Reporter’ is founded by Mr Kalyan Jain.